Vigyan India.com (विज्ञान इंडिया डाट कॉम ): डायरेक्टर्स ऑफ बोर्ड की बैठक में 2025 तक रोबोट भी ले सकता है हिस्सा

डायरेक्टर्स ऑफ बोर्ड की बैठक में 2025 तक रोबोट भी ले सकता है हिस्सा

नई दिल्ली : विज्ञान कथाओं के दायरे से निकलकर अब रोबोट और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मशीनें कॉरपोरेट निदेशक मंडल में जगह पा सकती हैं। इसके अलावा बहुत उम्मीद है कि पहले रोबोटिक फार्मासिस्ट, 3डी-प्रिंटेड कार और इंप्लांटेबल मोबाइल फोन समेत 11 नई आधुनिक प्रौद्योगिकी 2015 में वास्तविकता बन सकती है।

डायरेक्टर्स ऑफ बोर्ड की बैठक में 2025 तक रोबोट भी ले सकता है हिस्सा
विश्व आर्थिक मंच के साफ्टवेयर एवं समाज के भविष्य पर वैश्विक एजेंडा परिषद द्वारा किए गए 800 कार्यकारियों के सर्वेक्षण में कहा गया ‘करीब आधे उत्तरदाताओं को उम्मीद है कि पहली आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मशीन किसी कंपनी के निदेशक मंडल में 2025 तक होगी जबकि पहला 3डी-प्रिंटेड लीवर 2024 तक प्रवेश करेगा।’ इस सर्वेक्षण में कहा गया कि विश्व क्रांतिकारी बदलाव के दौर से गुजर रहा है और नयी प्रौद्येागिकी जल्दी ही वास्तविकता बन जाएगी जो कुछ साल पहले तक विज्ञान कथाओं तक सीमित थी।

सर्वेक्षण में शामिल 90 प्रतिशत लोगों ने कहा कि 2025 तक कम से कम 10 प्रतिशत लोग इंटरनेट से जुड़े कपड़े पहनेंगे। 75 प्रतिशत लोगों का मानना है कि अमेरिका में पहला रोबोट फार्मासिस्ट होगा जबकि 63 प्रतिशत का मानना है कि पहला ट्रैफिक लाइट मुक्त शहर होगा जबकि 45 प्रतिशत का मानना है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मशीन निदेशक मंडल में शामिल होगी।
sabhar http://zeenews.india.com/

3 comments:

vigyan ke naye samachar ke liye dekhe

CELL AS A BASIC UNIT OF LIFE