भविष्य में संकर जीवों का आस्तित्व होगा

प्राचीन धार्मिक ग्रंथो में ऐसे जीवों का वर्णन मिलता है, जैसे नरसिंह, असलान, कामधेनु ,यानी सदियों पहले इस तरह के अस्तित्व की कल्पना रही है इसी कल्पना को साकार करने के लिए वैज्ञानिक दशको से प्रयास कर रहे है| इस दिशा में पहली सफलता २००३ में मिली थी चीन के शंघाई स्थित सेकेण्ड मेडिकल युनिवर्सिटी में सफलता पूर्वक खरगोश के अन्डो में मानव कोशिका प्रत्यारोपित कर दी थी उन्होंने इस अन्डो को स्टेम सेल पाने के लिए इस्तेमाल किया| इससे संकर जीवों के अस्तित्व का सपना साकार होते दिखा पूरी दुनिया में इस समय १० संकर जीव बनाने के प्रयास किये जा रहे है २००४ में चीनी वैज्ञानिको ने दावा किया की की उन्होंने ऐसा सूअर बनाया है जिसकी रगो में इंसान का खून बहता है | युनिवर्सिटी ऑफ़ नेवादा रेनो के वैज्ञानिकों ने दावा किया की उन्होंने ऐसी भेंड बना ली है जिसमे २० फीसदी कोशिकाए मानव की है ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने मानव और गाय से भ्रूण बनाने का दावा किया है ऐसे ही कुछ वैज्ञानिक चूहे में ऐसे लीवर का प्रत्यारोपण किया जो ९५ फीसदी मानव कोसिकाओ से बना था इसी तरह स्टैनफोर्ड युनिवर्सिटी के इरविन वाएयास मेन की टीम ने मानव मस्तिस्क की स्टेम कोसिकायो को चूहे के दिमाग में डाला शुरू शुरू में दिमाग में १ फीसदी मानव कोसिकायो ने कब्ज़ा जमाया २०१० में इस टीम ने दावा किया की उन्होंने चूहे की खाल की कोसिकायो को पुरी तरह न्यूरांस में बदल दिया न्यूरांस ही मस्तिस्क से संदेशो को अंगो तक पहुंचाता है | इस प्रकार अब वह दिन दूर नहीं है जब हमें संकर जीव देखने को मिलेंगे |

11 comments:

  1. यह जानकारी अच्छी लगी.

    गोपाल बघेल मधु

    ReplyDelete
  2. adbhut jaankaari ,vigyaan ki den bhi anmol hai .

    ReplyDelete

vigyan ke naye samachar ke liye dekhe

CELL AS A BASIC UNIT OF LIFE