Vigyan India.com (विज्ञान इंडिया डाट कॉम ): पुनः उग आएंगे छतिग्रस्त अंग

पुनः उग आएंगे छतिग्रस्त अंग

वैज्ञानिको ने मानव शरीर में मौजूद उस खाश जीन का पता लगा लिया है जिसे स्विच ऑफ़ करते ही हमारे छतिग्रस्त अंग नए सिरे से पैदा हो जायेगे अमेरिका के फिलाडेल्फिया स्थित विस्टार संस्थान के वैज्ञानिक की टीम ने पी २१ नामक जीन को तलाशा है यह जीन लाखो वर्षो के विकाश क्रम में स्विच ओंन हो गयी थी पी २१ नामक जीन कोशिकाओं के पुनर्जनम को रोके हुए है जब चूहों के सरीर में में इस जीन को निष्क्री किया गया तो उनके छातीग्रस्त उतक फिर पैदा हुए यह ब्लास्तेमा नाक एक संग्रचना के कारन संभव हुआ वैज्ञानिको ने ये भी बताया की पी२१ हटा देने पर मानव शरीर कोसिकायो में स्टेम सेल कोसिकायो का लगातार निर्माण किया जा सकता है

11 comments:

  1. बहुत ही बढ़िया और महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई ! धन्यवाद!

    ReplyDelete
  2. waah badiya hai
    jaankari dene ke liye dhanyvaad

    ReplyDelete

vigyan ke naye samachar ke liye dekhe

CELL AS A BASIC UNIT OF LIFE